15 युवकों में से वर चुनेंगी पाक से लौटी गीता, शादी के लिए दिया था विज्ञापन


नई दिल्ली (24 मई): पाकिस्तान से  साल 2015 में भारत लौटने वाली मूक-बधिर युवती गीता आपको याद होगी। गीता के परिवार का अब तक कोई पता नहीं चला है। लेकिन गीता की अब जल्दी ही शादी होने वाली है। वो अपना पति चुनने के लिये 15 लड़कों से मिलेंगी। इनमें लेखक, दुकान संचालक, आईटी प्रोफेशनल और रेलवे कर्मचारी शामिल हैं। ये वो लोग हैं जिन्होंने फेसबुक पर वैवाहिक विज्ञापन देखने के बाद गीता के साथ सात फेरे लेने की इच्छा जतायी है।

गीता के लिये योग्य वर खोजने के अभियान से जुड़े सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ ज्ञानेंद्र पुरोहित ने बताया कि विदेश मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक इस लड़की को आज 25 लड़कों के बायोडेटा और तस्वीरें दिखायी गयीं। इसके आधार पर उसने इनमें से 15 युवकों से मिलना तय किया। खास बात यह है कि इन 15 युवकों में से 10 लोग सामान्य हैं यानी वे गीता की तरह विशेष जरूरतों वाले नहीं हैं। 

बहरहाल, गीता के होने वाले पति को उसकी कुछ शर्तें भी पूरी करनी होंगी। पुरोहित ने बताया, "गीता ने इशारों की जुबान में कहा कि अगर वह किसी सामान्य युवक को अपने पति के रूप में पसंद करती है, तो उसे सांकेतिक भाषा सीखनी होगी ताकि वैवाहिक जीवन के दौरान उन दोनों को संवाद में कोई दिक्कत न हो। इसके साथ ही, उसके भावी पति को उसके माता-पिता की खोज में उसकी मदद करनी होगी।"