मोदी के इस काम का मुरीद हुआ मोरक्को, अपने यहां भी शुरू करेगा ये योजना

दुनिया | Nov. 14, 2017, 9:38 a.m.

नई दिल्ली (14 नवंबर): भले ही कुछ कामों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्ष के निशाने पर रहते हो, उनकी कुछ योजानाओं को दूसरे देश भी अपनाने में लगे हुए हैं। आधार कार्यक्रम से प्रभावित होकर अफ्रीका की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था मोरक्को भी अपने यहां भी आधार जैसा कार्यक्रम शुरू करना चाहता है, जिसे स्कीम्स से लिंक किया जा सके।

मोरक्को ने हाल में अपने गृह मंत्री नूरुद्दीन बोतायब की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल भारत भेजा था, ताकि आधार लिंक करने की प्रक्रिया को समझा जा सके। मोरक्को से आए प्रतिनिधिमंडल का 10 दिनों का दौरा 6 नवंबर को खत्म हुआ। उसने आधार के भारतीय अनुभवों, क्राइम ऐंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क ऐंड सिस्टम (सीसीटीएनएस) और डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर, गैस सब्सिडी और डिजिटाइज्ड बैंकिंग सिस्टम जैसे फायदों के बारे में स्टडी की।

अधिकारियों ने बताया कि नूरुद्दीन ने गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू और दूसरे अधिकारियों से बातचीत में कहा कि बड़ी आबादी और अलग-अलग संस्कृतियों वाले भारत जैसे देश में इतने कम वक्त में जिस तरह से आधार सिस्टम को लागू किया गया, वह तारीफ के काबिल है। उन्होंने अधिकारियों को बताया कि मोरक्को भी भारत के सामाजिक-आर्थिक मॉडल के आधार पर स्कीमों को लागू करने की तैयारी में है और उनके प्रतिनिधिमंडल का फोकस भारत के विकास मॉडल और मोदी सरकार के सामाजिक-आर्थिक रिफॉर्म पर है।

Related news

Don’t miss out

News