बेटे ने तोड़ा बाप का 30 साल पुराना रिकॉर्ड

Headlines | Nov. 15, 2017, 11:03 a.m.

 

नई दिल्ली(15 नवंबर): करीब 30 साल पहले कूच विहार ट्रॉफी में इस युवा क्रिकेटर के पिता ने मुंबई के खिलाफ दोहरा शतक जड़कर अंडर 19 क्रिकेट में तहलका मचा दिया था। मंगलवार को मोहित मोंगिया जो भारत के सबसे सफलतम विकेटकीपर नयन मोंगिया के बेटे हैं ने कूच विहार ट्रॉफी में केरल के खिलाफ 246 गेदों में 240 रन बनाकर इतिहास रच दिया। 

- यह बड़ौदा की ओर कूच बिहार ट्रॉफी में किसी बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर है। इससे पहले नयन मोंगिया ने 1988 में केरल के खिलाफ 224 रन बनाए थे। 

- बेटे द्वारा खुद का रिकॉर्ड तोड़े जाने के बाद नयन मोंगिया ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, 'मैं खुश हूं कि मेरे बेटे ने यह रिकॉर्ड तोड़ा। यह अविश्वसनीय है। मोहित जोरदार खेल रहा है। वह इस रिकॉर्ड के योग्य भी है। '

- उन्होंने कहा, 'मोहित ने मुझे कॉल किया था। वह इस पारी को लेकर काफी खुश है। भारत की ओर से 44 टेस्ट और 140 वनडे खेल चुके नयन ने कहा कि उसे सिर्फ एक डबल सेंचुरी से ही संतुष्ट नहीं होना चाहिए।'

- इस मुकाबले में केरल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 370 रन बनाए थे। मोहित के दोहरे शतक की बदौलत बड़ौदा ने दिन का खेल खत्म होने तक 7 विकेट पर 409 रन बना लिए थे, मोहित नाबाद लौटे। 

Related news

Don’t miss out

News