शिवरात्रि पर इस बार भोलेभंडारी को चढ़ाएं यह खास भोग, होगी हर मुराद पुरी

देश | Feb. 13, 2018, 4:08 a.m.


नई दिल्ली (14 फरवरी): देशभर में महाशिवरात्रि पर्व की धूम है। सुबह से ही देशभर के मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ है। और लोग अपने-अपने तरीके से भेलो भंडारी की अराधना में जुटे हैं। मान्यता के मुताबिक इसी दिन देवी पार्वती और भगवान शिव का विवाह हुआ था। महाशिवरात्रि के मौके पर सदियों से उपवास रखने की प्रथा चली आ रही है। कुछ लोग इस व्रत के दौरान पूरा दिन अन्न और जल ग्रहण नहीं करते। वहीं कुछ भक्त फल, दूध और ड्राई फ्रूट्स का सेवन करते हैं। इसके साथ ही लोग कुट्टू का आटा और सेंधा नमक, आलू, साबुदाना, आलू की सब्जी और साबुदाने से बनी व्यजंन का इस्तेमाल करते हैं।


मान्यता के मुताबिक इस दिन किए गए भगवान शिव के जलाअभिषेक को काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन शिव भक्त ओम नम: शिवाय मंत्र के उच्चारण के साथ शिवलिंग का पंचामृत से अभिषेक करते हैं जिसे दूध, घी, शहद, दही और तुलसी मिलाकर बनाया जाता है। इसके अलावा बेर, बेलपत्र और फूल आदि भी भगवान को अर्पित किए जाते हैं। इसके अलावा भी कई अन्य भोग प्रसाद बनाकर भी भक्त भोलेभंडारी को खुश करने की कोशिश करते हैं।

शिवरात्रि के मौके पर मखाने की खीर का विशेष महत्व है। इसमें चावल की जगह भूनें हुए मखाने का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें केसर और इलाइची पाउडर का भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा इसमें बादाम, काजू और किशमिश भी डाला जाता है। महाशिवरात्रि पर भगवान शिव को मखाने की खीर बनाकर भोग लगाने की भी मान्यता है।

Related news

Don’t miss out

News