Download app
We are social
Chanakya Poll Today

ओम पुरी का पांच दिन बाद मिला मोबाइल, पुलिस जांच में हुआ बड़ा खुलासा

नई दिल्ली ( 12 जनवरी ): जाने-माने बाॅलीवुड अभिनेता ओम पुरी का मोबाइल उनकी मौत के पांच दिनों बाद आखिरकार मिल गया। पुलिस को यह मोबाइल उनकी दूसरी पत्नी नंदिता पुरी के पास से मिला है। जांच में मोबाइल में कुछ भी संदेहास्पद नहीं मिला है।


ओशिवारा थाने के वरिष्ठ इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा, "अब तक कुछ भी नियम विरुद्ध नहीं मिला है। मोबाइल हैंडसेट में कुछ भी संदेहास्पद नहीं मिला है। उसे फॉर्मेट नहीं किया गया है। मैं हैरान हूं कि लोग कैसे ऐसी मनगढ़ंत बातें बना रहे हैं।


यह बेबुनियाद है कि नंदिता पुरी के कहने पर हमने एडीआर (एक्सीडेंटल डेथ रिपोर्ट) दर्ज की। दरअसल, यह मौत से जुड़े हर उन मामलों में दर्ज होती है, जिसकी जानकारी अस्पताल से मिलती है। ओम पुरी की मौत की असली वजह का पता फोरेंसिक रिपोर्ट आने पर ही चलेगा। इसमें करीब 30-40 दिन लगेंगे। तब ही हम एडीआर को एफआइआर में बदलेंगे। हम पूरी गंभीरता से जांच कर रहे हैं। फिलवक्त मामले में कोई साजिश नजर नहीं आ रही।"


दरअसल, मुंबई पुलिस इस मामले में अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। वह इसे सनसनीखेज नहीं बनाने की अपील कर रही है। वह नहीं चाहती कि जो चूक अभिनेत्री जिया खान की मौत के मामले में हुई थी, वह फिर हो। अपराध शाखा के अधिकारियों ने भी खानविलकर की बातों से सहमति जताई है।


उनका कहना है, "इस मामले में अगर शक की जरा भी गुंजाइश होती तो हमें भी ओशिवारा पुलिस के साथ मिलकर समानांतर जांच करने के निर्देश मिलते। कुछ लोग अपने न्यूज पोर्टल की हिट्स बढ़ाने की खातिर तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर उसे खबर की शक्ल दे रहे हैं। उनकी मौत शराब के अत्यधिक सेवन से हुई लगती है।"

Related news