Download app
We are social

अब ऐसे दिखते हैं कादर खान, बोलने में होती है दिक्कत, बेटे-बहू को ही समझ पाते हैं

नई दिल्ली(13 अक्टूबर): कादर खान बॉलीवुड का एक ऐसा नाम जो किसी परिचय का मोहताज नहीं है। कादर साहब इन दिनों कनाडा में अपने बेटे-बहू के साथ रहते हैं। वे बिना सहारे के चल नहीं पाते हैं और उन्हें बोलने में भी तकलीफ होती है। हाल ही में उनकी बहू शाइस्ता खान ने एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में बताया कि उनको अब बोलने में दिक्कत होती है। वे सिर्फ उन्हें और बेटे सरफराज की बातों को ही समझ पाते हैं। उन्होंने बताया कि कादर खान पहचान सभी को लेते हैं। 

- कादर खान 79 साल के हो गए हैं। शाइस्ता कहती हैं कि वे अपनी दोनों बेटियां साइमा और हम्जा के साथ मिलकर उनकी देखभाल बच्चों की तरह करती हैं। ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा ना हो।

-कनाडा से भारत लौटने के सवाल पर उनके बेटे सरफराज ने कहा कि मेरे पिताजी कनाडा के नागरिक हैं, और उनकी यहां पर अच्छी देखरेख हो रही है। हालांकि उन्होंने कहा कुछ दिन के लिए भारत आएंगे, लेकिन मुझे नहीं लगता अब वो कोई भी फिल्म करेंगे। 

- कादर खान ने अपने करियर की शुरुआत 1972 में आई फिल्म 'दाग' से की थी। इसके अलावा उन्होंने 'अदालत' (1976), 'परवरिश' (1977), 'दो और दो पांच' (1980), 'याराना' (1981), 'खून का कर्ज' (1991), 'दिल ही तो है' (1992), 'कुली नं. 1' (1995), 'तेरा जादू चल गया' (2000), 'किल दिल' (2014) सहित कई फिल्मों में काम किया है। वे आखिरी बार 2015 में आई फिल्म 'हो गया दिमाग का दही' में नजर आए थे।
 

Related news

Don’t miss out