Jio का दावा, एयरटेल के इस सौदे से सरकार को होगा 217 करोड़ का नुकसान

बिजनेस | May 17, 2017, 2:35 p.m.

नई दिल्ली (17 मई): एक तरफ जहां रिलायंस JIO ने अपने ऑफर्स से अन्य टेलीकॉम कंपनियों का हाल बेहला कर रखा है वहीं रिलायंस JIO ने दावा कि है कि एयरटेल द्वारा तिकोना के प्रस्तावित अधिग्रहण सौदे से सरकार को 217 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।


JIO का दावा है कि यदि इंटरनेट सेवा प्रदाता के पास मौजूद स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल वॉयस कॉल करने के लिए किया जाएगा, तो इससे सरकार को घाटा होगा। JIO दूरसंचार विभाग से मांग की है कि वह तब तक इस अधिग्रहण सौदे को मंजूरी न दे जब तक कि एयरटेल ब्रॉडबैंड स्पेक्ट्रम को ISP लाइसेंस से यूनिफाइड लाइसेंस में बदलने के लिए भुगतान नहीं कर देती है। इसके बाद स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल किसी भी उद्देश्य के लिए किया जा सकता है।


साथ ही अपने अपने 3 पेज के खत में JIO ने कहा है कि उसे 1,658 करोड़ रपये का वह शुल्क लौटाया जाए जो उसने 2013 में अपने ब्रॉडबैंड स्पेक्ट्रम को यूनिफाइड लाइसेंस में बदलने के लिए किया था।

Related news

Don’t miss out

News