ISRO आज रचेगा एक और इतिहास, अंतरिक्ष में भेजेगा अपना 100वां सैटेलाइट

देश | Jan. 12, 2018, 7:10 a.m.

नई दिल्ली (12 जनवरी): भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) आज श्रीहरिकोटा से अपने 100वें उपग्रह का प्रक्षेपण करेगा और इसके साथ ही अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में नई ऊंचाइयों पर पहुंच जाएगा। इस उपग्रह के साथ 30 अन्य उपग्रहों को भी अंतरिक्ष में पहुंचाया जाएगा। यह मिशन देश के अंतरिक्ष अनुसंधान कार्यक्रम के इतिहास में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी।

चेन्नई से 110 किलोमीटर दूर स्थित श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से इस 100वें उपग्रह के साथ 30 अन्य उपग्रह यानी कुल 31 उपग्रह अंतरिक्ष में प्रक्षेपित किये जाएंगे. अपने इस 42वें मिशन के लिए इसरो भरोसेमंद कार्योपयोगी ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पीएसएलवी-सी40 को भेजेगा जो कार्टोसेट-2 श्रृंखला के उपग्रह और 30 सह-यात्रियों को लेकर आज सुबह 9 बजकर 28 मिनट पर उड़ान भरेगा। इनका कुल वजन कुल वजन करीब 613 किलोग्राम है।

मिशन तैयारी समीक्षा समिति और प्रक्षेपण प्राधिकरण बोर्ड द्वारा तय की गई थी। इस मिशन के समय पर मुहर लगाए जाने के बाद इसरो ने कहा, “पीएसएलवी-सी40/ कार्टोसेट2 श्रृंखला के उपग्रह मिशन की 28 घंटे की उलटी गिनती आज सुबह पांच बजकर 29 मिनट (भारतीय समयानुसार) पर शुरू हो गई।” संस्थान ने बताया कि वैज्ञानिक फिलहाल उड़ान के विभिन्न चरणों के लिए प्रोपलेंट भराव के कार्य में लगे हुए हैं।

Related news

Don’t miss out

News