देश के इतिहास में पहली बार, 3 बहादुर बेटियां उड़ाएंगी मिग-21

देश | Jan. 23, 2018, 10:41 a.m.

नई दिल्ली(23 जनवरी): देश में पहली बार वायु सेना की महिला पायलट अवनि चतुर्वेदी, भावना कांत और मोहना सिंह अकेले ही सुपरसॉनिक फाइटर जेट उड़ाएंगी। इन तीनों महिलाओं ने पहले ही इतिहास अपने नाम दर्ज कर लिया है। 

- तीनों भारतीय वायु सेना की लड़ाकू विमान उड़ाने वालीं पहली महिला पायलट हैं।

- तीनों ही एयरफोर्स की कठिन प्रशिक्षण ट्रेनिंग पूरा कर चुकी हैं। तीनों पायलट मिग-21 बाइसन्स जेट उड़ाएंगी। 

- बता दें कि मिग-21 बाइसन्स की टेक-आफ और लैंडिंग स्पीड सबसे अधिक तकरीबन 340 किमी. प्रति घंटे की है। तीनों अपने एयरबेस स्टेशन से उड़ान भरेंगी। 

- बता दें कि अब तक तीनों ने सोलो सोर्टिज जैसे पायलट्स पीसी-7, किरन और हॉक जेट ही उड़ाया है। ऐसे विमानों को उड़ाना गुरिल्ला ट्रेनिंग के दौरान काफी आसान समझा जाता है। अब अवनि और भावना मिग-21 जैसे युद्धक बड़े लड़ाकू विमानों को उड़ाने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।


 

Related news

Don’t miss out

News