औद्योगिक उत्पादन में उछाल, 9 महीने के उच्च स्तर पर

बिजनेस | Oct. 12, 2017, 9:56 p.m.

नई दिल्ली ( 12 अक्टूबर ): खनन एवं बिजली क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से औद्योगिक उत्पादन में अगस्त माह के दौरान 4.3 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गयी। यह वृद्धि पिछले नौ माह में सर्वाधिक रही। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़े के अनुसार औद्योगिक उत्पादन सूचकांक के आधार पर मापे जाने वाले औद्योगिक उत्पादन में एक साल पहले अगस्त माह में 4 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई थी।

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) के अगस्त के आंकड़े गुरुवार को जारी किए गए, जिसमें फैक्टरी आउटपुट में पिछले साल के समान माह की तुलना में 4.3 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है। यह पिछले 9 महीने का उच्च स्तर है। पिछला उच्च स्तर नवंबर 2016 में रहा था जब IIP ग्रोथ 5.7 प्रतिशत दर्ज किया गया था। इस बार औद्योगिक उत्पादन सूचकांक में बढ़ोत्तरी के पीछे सबसे ज्यादा योगदान खनन और विद्युत क्षेत्र में आई मजबूती का रहा। 

अगस्त महीने में मैन्युफैक्चिरिंग सेक्टर का आउटपुट ग्रोथ पिछले साल की तुलना में 5.5 प्रतिशत से घटकर 3.1 प्रतिशत रह गया है। मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का IIP में 77.63 प्रतिशत का योगदान होता है। अगस्त महीने में खनन और विद्युत क्षेत्र के आउटपुट में पिछले साल के मुकाबले क्रमशः 9.4 प्रतिशत और 8.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।

सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक देश में जुलाई में पिछले साल के इसी महीने की तुलना में विनिर्माण उत्पादन में मामूली वृद्धि दर्ज की गई। इस साल अप्रैल से अगस्त के बीच IIP ग्रोथ का औसत 2.2 प्रतिशत रहा जो पिछले साल की समान अवधि में 5.9 प्रतिशत था। इस बीच जुलाई महीने में IIP ग्रोथ के डेटा को संसोधित किया गया है। पहले 1.2 प्रतिशत की वृद्धि का आकलन किया गया था जिसे संसोधित करके 0.94 किया गया।

Related news

Don’t miss out

News