'बीपी' की इस नई गाइडलाइन्स से हृदय रोगों का जल्द पता लगाया जा सकेगा

Headlines | Dec. 13, 2017, 3:07 a.m.

नई दिल्ली ( 13 दिसंबर): अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन और अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी ने पिछले महीने हाई ब्लड प्रेशर या उच्च रक्तचाप को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। अब उच्च रक्तचाप के स्तर को 140 से घटाकर 130 कर दिया गया है। इसमें कहा गया है कि उच्च रक्तचाप का उपचार 130/80 एमएमएचजी पर ही शुरू कर देना चाहिए। पहले यह 140/90 था।

डाॅक्टरों का कहना है कि पिछले तीन-चार वर्षों में वैज्ञानिक प्रमाणों में सामने आया है कि पहले की तुलना में इस बहुत अधिक लोग उच्च रक्तचाप के शिकार हैं। इसलिए उच्च रक्तचाप के मौजूदा दिशा निर्देशों में सुधार की जरूरत है। 

दुनिया भर के चिकित्सकों ने इस कदम की सराहना की है। उन्होंने कहा कि अब इससे उच्च रक्तचाप की शुरुआत में निगरानी की जा सकेगी जिससे 
प्रमुख स्वास्थ्य समस्याओं से होने वाले खतरे को टालने में मदद मिलेगी।

डाॅक्टरों का कहना है कि "अनियंत्रित हाई ब्लड प्रेशर से दिल का दौरा पड़ सकता है या स्ट्रोक, एन्युरिज़्म, दिल की विफलता, अंग खराब, दृष्टि हानि, मेटाबोलिक सिंड्रोम और मेमोरी समस्याएं हो सकती हैं।"
 

Related news

Don’t miss out

News