Download app
We are social

हामिद अंसारी के बयान के खिलाफ खड़ा हुआ मुसलमानों का यह संगठन

नई दिल्ली (13 अगस्त): जमात-ए-उलमा-ए-हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुहैब कासमी ने पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के मुसलमानों में असुरक्षा संबंधी बयान को देश तोडऩे वाला करार देते हुए कहा है कि मोदी सरकार में मुस्लिम पूरी तरह महफूज हैं।

कासमी ने शनिवार को कहा कि अंसारी 50 से अधिक उच्च पदों पर रहे और पिछले 10 साल से तो वह उपराष्ट्रपति थे। इस दौरान उन्हें मुसलमानों की सुध नहीं रही और कुर्सी से हटते ही मुस्लिम याद आने लगे।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में मुस्लिम पूरी तरह महफूज हैं और अंसारी का बयान देश को तोडऩे वाला और मुस्लिम समुदाय में बेवजह खौफ पैदा करना है। मदरसा शिक्षा को लेकर राजनीति का आरोप लगाते हुए कासमी ने कहा हमारा संगठन मदरसों में राष्ट्रीय गीत गाने के विरोध में नहीं है। 

मुसलमानों को अपनी देशभक्ति साबित करने के लिये किसी तरह के प्रमाण की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के आतंकवादी गतिविधियों को पनाह देने के खिलाफ 14 अगस्त को जुलूस निकालकर पाकिस्तान का झंडा जलाया जायेगा।

Related news

Don’t miss out