Download app
We are social

कांग्रेस ने उठाए सवाल, गुजरात में चुनाव की तारीखों का ऐलान क्यों नहीं?

नई दिल्ली ( 12 अक्टूबर ): चुनाव आयोग ने गुरुवार को हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया, लेकिन गुजरात विधानसभा चुनाव के तारीख की घोषणा नहीं की। हिमाचल के साथ गुजरात चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं होने पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए हैं। कांग्रेस ने पूछा है कि ऐसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कहने पर किया जा रहा है? क्योंकि पीएम 16 अक्टूबर को गुजरात जाने वाले हैं। हालांकि चुनाव आयोग ने स्पष्ट किया है कि गुजरात चुनाव के डेट का ऐलान नहीं होने का पीएम के दौरे से कोई मतलब नहीं है।

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री गुजरात चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद गुजरात दौरे पर जाते तो फिर वो एक कैंपेनर की हैसियत से जाते। सुरजेवाला ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के बाद पीएम वहां अपने लोकलुभावन और जुमलेबाजी भरे वायदे वहां लागू नहीं कर पाते। 

आयोग ने यह भी साफ किया कि हिमाचल प्रदेश के वोटों की गिनती गुजरात की गिनती के साथ ही होगी। मतलब गुजरात में भी 18 दिसंबर से पहले चुनाव समाप्त हो जाएगा। अब इस मुद्द पर राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग ने ऐसा प्रधानमंत्री के कहने पर किया है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि चूंकि पीएम 16 अक्टूबर को वहां जा रहे हैं और अगर चुनाव डेट घोषित हो जाते तो फिर आचार संहिता लागू हो जाता। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को इस मसले पर देश को जवाब दिए जाने की जरूरत है।

आयोग के सूत्रों के अनुसार वहां अगले हफ्ते डेट की घोषणा होगी। लेकिन आयोग ने यह साफ कर दिया कि गुजरात में भी वोटों की गिनती 18 दिसंबर को ही होगी। गुजरात में चुनाव के डेट की नहीं घोषणा करने पर आयोग ने सफाई दी। चुनाव आयोग ने इस बारे में उठे सवाल पर कहा कि ऐसा नियम सम्मत किया गया है। 

पीएम मोदी 16 अक्तूबर को गुजरात जा रहे हैं और वह नई योजनाओं का शिलान्यास कर सकते हैं। क्या पीएम मोदी के कार्यक्रम के मद्देनजर राज्य में चुनाव के डेट की घोषणा नहीं गयी, इस मसले मुख्य चुनाव आयुक्त अचल कुमार ज्योति ने कहा कि इसका पीएम के दौरे से कोई मतलब नहीं है। 

Related news

Don’t miss out