SC विवाद पर पहली बार बोले पीएम, कहा- सरकार, राजनीतिक दलों को मौजूदा न्यापालिका संकट से दूर रहना चाहिए

देश | Jan. 22, 2018, 3:21 a.m.

नई दिल्ली (22 जनवरी): पीएम मोदी ने हाल ही में एक अंग्रेजी चैनल को दिए इंटरव्यू में 'कांग्रेसमुक्त भारत' पर कई बाते कहीं। पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी का यह संकंल्प देश से कांग्रेस सभ्यता को मिटाने का है। खुद कांग्रेस को भी चाहिए कि वह अपने कांग्रेस कल्चर में बदलाव लाए। पीएम मोदी ने जातिवाद, परिवारवाद, भ्रष्टाचार पर कांग्रेस को घेरते हुए यह नसीहत दी। 

प्रधानमंत्री से जब उनके नारे 'कांग्रेसमुक्त भारत' के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह जब यह नारा दिए थे तो उनका आशय किसी पार्टी या संगठन विशेष से नहीं था बल्कि एक कल्चर से था जिसमें जातिवाद, परिवारवाद, भ्रष्टाचार, धोखा देना, सत्ता को दबोचकर रखना जैसी बुराइयां शामिल हैं। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि कांग्रेस भी 'कांग्रेसमुक्त' हो। 

वहीं न्यापालिका संकट पर पहली बार बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि सरकार और राजनीतिक दलों को इससे दूर रहना चाहिए। उन्होंने भरोसा जताया कि न्यायपालिका अपनी समस्याओं का समाधान निकालने के लिए एक साथ बैठेगी। प्रधानमंत्री ने कहा, 'हमारे देश की न्यायपालिका का एक बहुत ही उत्कृष्ट अतीत रहा है, वे बहुत ही सक्षम लोग हैं। वे एक साथ बैठेंगे और अपनी समस्याओं का समाधान निकालेंगे। हमारी न्यायिक प्रणाली में मेरी आस्था है, वे निश्चित तौर पर एक समाधान निकालेंगे।' 

Related news

Don’t miss out

News