दोषियों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई, ऑक्सीजन सप्लाइ की भी जांच: सीएम योगी

देश | Aug. 12, 2017, 9:09 p.m.

नई दिल्ली (12 अगस्त): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के बीआरडी कॉलेज में बच्चों की मौतों पर संवेदना जताई। उन्होंने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। योगी ने सरकार का बचाव भी किया। सीएम ने मीडिया में मौतों के अलग-अलग आंकड़ों पर भी सवाल उठाए। सीएम ने कहा कि इंसेफेलाइटिस से निपटना बड़ी चुनौती है। उन्होंने साथ ही कहा कि ऑक्सीजन सप्लाइ करने वाले फर्म की भूमिका की भी जांच की जाएगी। 

हादसे के करीब 24 घंटे बाद मीडिया के सामने आए योगी ने कहा, 'मैं पिछली 9 जुलाई और 9 अगस्त को बीआरडी अस्पताल का दौरा कर चुका हूं। अस्पताल की समस्या और उसके समाधान के बारे में अस्पताल प्रशासन से बातचीत की और कमियों पर कार्रवाई भी की। इस दौरान किसी ने भी मुझे अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के बारे में कोई जानकारी नहीं दी। अगर मौतें ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई हैं तो यह एक जघन्य अपराध है।'

सीएम ने साथ ही पिछले 5 दिनों में बच्चों की मौतों का आंकड़ा भी पेश किया। उन्होंने कहा कि 7 अगस्त को 9 मौत हुई हैं। 8 अगस्त को 12, 9 अगस्त को 10, 10 अगस्त को 23 और 11 अगस्त को कुल 11 मौत हुई हैं। ये सभी मौतें अलग-अलग कारणों से हुई हैं। उन्होंने कहा कि अगर ऑक्सीजन सप्लाइ बाधित हुई है तो इस मामले में सप्लायर की भूमिका भी तय होगी। मामले की जांच के लिए मुख्य सचिव के नेतृत्व में जांच कमिटी का गठन किया गया है। योगी ने कहा कि किसी भी अस्पताल में धनराशि की कमी नहीं होने दी जायेगी। 

योगी ने कहा, 'सप्लायर्स की भूमिका की जांच की जा रही है। पिछली सरकार ने सप्लायर्स को 8 साल के लिए ऑक्सीजन सप्लाइ का कॉन्ट्रैक्ट दिया था। गोरखपुर हादसे में कुछ कार्रवाई हुई है। आगे भी कोई और दोषी पाया जाएगा तो उसे भी बख्शने का कोई प्रश्न ही नहीं है। अगस्त में इंसेफेलाइटिस उभरता है। यूपी के 34 जिले में इंसेफेलाइटिस का प्रकोप है। बीआरडी अस्पताल में केवल यूपी के ही नहीं बल्कि बिहार और नेपाल के बच्चे भी आते हैं। अस्पताल में मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध है।' सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार की मंत्री अनुप्रिया पटेल रविवार को गोरखपुर जाएंगी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद केंद्रीय मंत्री पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार राज्य को पूरी मदद के लिए तैयार है। बच्चों की मौत से पीएम नरेंद्र मोदी काफी दुखी हैं। कॉलेज के प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया है। यूपी सरकार अपनी रिपोर्ट केंद्र को सौंपेगी। मैं भी अपनी रिपोर्ट केंद्र को दूंगी। 

Related news

Don’t miss out

News