रोहिंग्या मुसलमान ऐसे बनाएं जा रहे हैं भारतीय

देश | Dec. 6, 2017, 10:11 a.m.


नई दिल्ली (6 दिसंबर): बड़ी तादाद में म्यांमार को छोड़कर भारत आए रोहिंग्या मुसलमानों को भारतीय नागरिक बनाने का एक गंदा धंधा चलाया जा रहा है। इस बारे में खुफिया एजेंसियों ने जानकारी देते हुए बताया है कि गुवाहाटी और कोलकाता में रोहिंग्या को भारत में घुसपैठ कराने के लिए एक नेटवर्क सक्रिय है। यही नहीं भारत में इनके लिए फर्जी दस्तावेज भी मुहैया कराए जा रहे हैं।

एजेंसियों के मुताबिक ये दलाल बांग्लादेश से घुसपैठ कराकर लोगों को झुग्गियों और किराये पर बसाने में मदद करते हैं। इसके बाद इन्हें धीरे-धीरे देश के दूसरे हिस्सों में भेज दिया जाता है। भारत से बांग्लादेश की 4,000 किलोमीटर लंबी सीमा लगती है। इसमें से 1900 किलोमीटर सीमा बंगाल से लगती है। यहां दो ऐसे बड़े क्रॉसिंग पॉइंट्स हैं, जहां से घुसपैठ होती है और स्थानीय एजेंट इस काम को अंजाम दिलाते हैं।

इंटेलिजेंस एजेंसियों के अनुमानों के मुताबिक, भारत में करीब 40,000 रोहिंग्या मुस्लिम अवैध रूप से भारत में रह रहे हैं। इनमें से 7,096 लोग जम्मू, 3,059 हैदराबाद, 1,114 मेवात में, 1,200 पश्चिमी उत्तर प्रदेश में और 1,061 रोहिंग्या दिल्ली में रह रहे हैं। इसके अलावा जयपुर में भी 400 रोहिंग्या बसे हुए हैं।

Related news

Don’t miss out

News