रिटर्न न भरने वाले डीयू, जेएनयू, इग्नू और सुप्रीम कोर्ट बार का FCRA रद्द

देश | Sept. 14, 2017, 12:57 a.m.

नई दिल्ली (14 सितंबर): डीयू, जेएनयू, आईआईटी दिल्ली, इग्नू और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद जैसे देश के प्रमुख शिक्षण संस्थान तथा उच्चतम न्यायालय बार एसोसिएशन सहित सैकड़ों संगठनों का एफसीआरए रद्द कर दिया गया है। अब ये संस्थान विदेशी सहायता हासिल नहीं करपायेंगे है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने विदेशी सहायता विनियमन कानून 2010 (एफसीआरए) के तहत इन संस्थानों के पंजीकरण को इस आधार पर रद्द कर दिया क्योंकि ये संस्थान लगातार पांच वर्ष से वार्षिक रिटर्न जमा करने में नाकाम रहे। नियमानुसार एफसीआरए के तहत पंजीकरण कराये बिना कोई भी संस्थान विदेशी सहायता हासिल नहीं कर सकता है।

साथ ही इस कानून के तहत पंजीकृत संस्थान को अपनी आय व्यय का सालाना रिटर्न सरकार को हर साल पेश करना अनिवार्य है और इसका पालन नहीं करने वाले संस्थानों का एफसीआरए के तहत पंजीकरण निरस्त कर दिया जाता है। इस प्रावधान का पालन नहीं करने के कारण गृह मंत्रालय द्वारा एफसीआरए के तहत पंजीकरण रद्द किये गये शिक्षण संस्थानों की फेहरिस्त में पंजाब विश्वविद्यालय, दून स्कूल एसोसिएशन, दिल्ली स्थित गार्गी कालेज, श्री गुरु तेग बहादुर खालसा कालेज और लेडी इरविन कालेज भी शामिल हैं।

 

Related news

Don’t miss out

News