Download app
We are social

शोधकर्ताओं ने 131 साल पहले खो चुके दुनिया के 8वें अजूबे को खोज निकाला

नई दिल्ली ( 13 जून ): आपने अभी तक 7 अजूबों के बारे में सुना होगा, लेकिन इस दुनिया में एक 8वां अजूबा भी है। कई सालों की कोशिश के बाद आखिरकार शोधकर्ताओं ने दुनिया के 8वें आश्चर्य को खोजने में कामयाबी हासिल कर ली है। यह जगह बहुत पहले खो गई थी। अब शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि इस लापता हो चुके 8वें आश्चर्य को वे बहुत जल्द दुनिया के सामने ले आएंगे।


न्यूजीलैंड के उत्तरी द्वीप पर स्थित रोटोमेहाना झील की गुलाबी और सफेद सीढ़ियां 19वीं सदी में पर्यटकों के बीच बड़ा आकर्षण थीं। लोग दूर-दूर से उन्हें यहां देखने आया करते थे। ये सीढ़ीनुमा आकृतियां प्राकृतिक थीं। माना जाता था कि ये सीढ़ियां धरती पर सिलिका (एक किस्म का पत्थर) और धातु की तलछट (सिंटर) का सबसे बड़ा भंडार हैं।


1886 में यहां एक ज्वालामुखी विस्फोट हुआ। लोगों को लगा कि ये सीढ़ियां इसी विस्फोट में बर्बाद हो गईं। उसके बाद ये सीढ़ियां किसी को नहीं दिखीं। किसी भी सरकारी सर्वे में इसे दर्ज नहीं किया गया। यह भी पता नहीं था कि ये सीढ़ियां किस अक्षांश या देशांतर रेखा पर स्थित हैं।


जिस डायरी की मदद से यह संभव हो पाया है, वह डायरी डॉक्टर सासचा नोल्डेन को स्विट्जरलैंड के बाल शहर में मिली थी। यह डायरी जाने-माने भूविज्ञानी डॉक्टर फरडिनेंड वोन हॉसटरर की थी।

Related news

Don’t miss out