Download app
We are social

सेवाओं पर जीएसटी तय, जानिए क्या होगा महंगा, क्या होगा सस्ता

नई दिल्ली ( 19 मई ): शुक्रवार को सेवाओं पर लगने वाले जीएसटी की दरें तय कर दी गर्ई हैं। जीएसटी कांउसिल ने दो दिवसीय बैठक के दूसरे दिन सर्विस पर जीएसटी की दरें तय कर दीं। सर्विसेज पर जीएसटी की सभी 4 दरें 5%, 12%, 18%, 28% लागू करने का फैसला किया गया है। कुछ सेवाओं को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है। इनमें मुख्य रूप से शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाएं हैं। ट्रांसपोर्ट को जरूरी सेवा मानते हुए उस पर 5 फीसदी की दर तय की गई है।


श्रीनगर में वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक में 1200 से भी ज्यादा सामान पर नयी टैक्स व्यवस्था की दरों पर सहमति बन गयी, जेटली ने कहा कि जरुरी सामान पर जीएसटी की दर वासत्व में कम हो जाएगी, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दावा किया कि जो आज टैक्स लगता है उसमें किसी भी कमॉडिटी पर टैक्स बढ़ा नहीं है, बल्कि कई पर घटा है, उनका ये भी कहना है कि टैक्स चोरी पर लगाम लगेगी।


-81 फीसदी सामान पर टैक्स की दर 18 फीसदी या उससे कम होगी।


-बाकी 19 फीसदी पर जीएसटी की दर 28 फीसदी की दर से टैक्स लेगी।


-बालों में लगाने वाला तेल, टूथपेस्ट, साबुन – 28 फीसदी की जगह 18 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा।


-गुड़ पर टैक्स में छूट दी गयी है।


-अनाज पर टैक्स में छूट दी गयी है।


मिठाई पर 5 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा, ये पहले से कम है।


-कोयले पर 11.69 फीसदी की जगह 5 फीसदी की जीएसटी दर तय की गयी है, इससे बिजली की दर कम हो सकती है।


-चीनी, चाय की पत्ती, कॉफी, खाने के तेल पर 5 फीसदी जीएसटी का प्रस्ताव है। दूध पर जीएसटी नहीं लगेगा।


-छोटी पेट्रोल कार – 28 फीसदी जीएसटी+1 फीसदी की दर से सेस यानी कुल 29 फीसदी, अभी 30-31 फीसदी की दर से टैक्स लगता है।


-छोटी डीजल कारों पर 28 फीसदी जीएसटी +3 फीसदी की दर से सेस यानी कुल 32 फीसदी, ये मौजूदा दर के बराबर है।


-लग्जरी कर – 28 फीसदी की दर से जीएसटी+15 फीसदी की दर से सेस यानी 43 फीसदी, ये मौजूदा दर के बराबर है।


-कंज्यूमर ड्युरेबल्स – 28 फीसदी की दर से जीएसटी लगेगा, अभी 30-32 फीसदी है।

Related news

Don’t miss out