धोनी ने खोला राज, बताया आखिर कैसे मिली 2007 में भारतीय टीम की कमान

खेल | Nov. 17, 2017, 5:52 p.m.

नई दिल्ली (17 नवंबर): भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी को किसी परिचय की जरुरत नहीं है। साल 2007 में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान बने धोनी ने भारत को तीन बड़े खिताब दिलाए। 

धोनी को साल 2007 में अचानक ही कप्तानी मिली थी, किसी को नहीं पता था कि आखिर धोनी ही टीम के कप्तान क्यों बने, लेकिन अब खुद धोनी ने इस बात से पर्दा उठाया है और बताया है कि आखिर साल 2007 में उन्हें कप्तानी क्यों मिली।

धौनी ने कहा कि चयनकर्ता हर चीज देख रहे थे। खेल के प्रति मेरी ईमानदारी साथ ही गेम को परखने का मेरा नजरिया उन्हें पसंद आया। उस वक्त टीम में मैं कुछ युवा खिलाड़ियों में से एक था। मैं खेल को लेकर अपने विचार को बताने से ना तो हिचकता था ना ही डरता था। इसके अलावा धौनी का टीम के खिलाड़ियों के साथ बर्ताव भी उनके कप्तान बनने में बड़ी भूमिका निभाई।

धोनी ने अपने क्रिकेट करियर में अब तक 90 टेस्ट, 309 वनडे  और 83 टी20 मैच खेले हैं। एक कप्तान के तौर पर उन्होंने भारतीय टीम को 60 टेस्ट, 199 वनडे और 72 टी20 मैचों में लीड किया था। इनमें से उन्होंने 27 टेस्ट, 110 वनडे और 41 टी20 मुकाबले जीते।

Related news

Don’t miss out

News