सुसाइड से पहले छात्रा ने बताया अपना दर्द, पढ़कर रो पड़ेंगे आप

देश | March 22, 2018, 10:19 a.m.

नई दिल्ली(22 मार्च): दिल्ली से सटे नोएडा सेक्टर-52 जीबी में रहने वाली 9वीं की छात्रा के सुसाइड करने से हड़कंप मच गया। छात्रा मयूर विहार के एल्कॉन स्कूल में पढ़ती थी। छात्रा ने जान देने से पहले एक सुसाइड नोट लिखा। बता दें छात्रा ने टीचरों के छेड़छाड़ से तंग आकर खुदकुशी कर ली थी। 

I am failure...I am dumb...I hate myself...(मैं असफल हूं...मैं गूंगी हूं...मैं खुद से नफरत करती हूं)...जी हां, इन तीन वाक्यों को लिखने के बाद 16 साल की छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

बीते 20 मार्च को खुदकुशी से ठीक पहले पीड़िता ने अपनी नोटबुक में उपरोक्त लाइन लिखी थी। उसके पिता का आरोप है कि स्कूल में सोशल साइंस का टीचर राजीव सहगल उससे छेड़छाड़ करता और साइंस टीचर नीरज आनंद धमकाती थी।

मौत से पहले पीड़िता ने अपनी किताब में लिखा कि समय के साथ सबकुछ बदलता है। कॉपी में भी कई बार उसने अपना नाम लिखा। वह डॉक्टर बनाना चाहती थी। उसने अपने सपने के बारे में भी नोटबुक पर लिखा था। आखिरी पन्ने पर उसने अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाया था। इसके बाद खुद को असफल मानते हुए उसने मौत का रास्ता चुन लिया था।

पिता का आरोप है कि दोनों टीचरों ने जान बूझकर परीक्षा में उसे कम नंबर दिए थे, जिससे कि वह फेल हो गई थी। पिता ने स्कूल के प्रिंसिपल से शिकायत की, लेकिन कुछ नहीं हुआ। इस वजह से छात्रा तनाव में रहने लगी थी। उसने अपने पिता से कहा था कि दोनों टीचर उसे पास नहीं होने देंगे। इसी वजह से उसने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी थी।

पुलिस ने दोनों टीचर के साथ प्रिंसिपल के खिलाफ छेड़छाड़ करने, आत्महत्या के लिए उकसाने, धमकी देने और पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। पहले पुलिस ने पॉक्सो एक्ट की धारा नहीं जोड़ी थी। सवाल उठे तो फिर दोबारा धाराएं बढ़ाई गईं। इस मामले में पहली शिकायत दर्ज करने वाले पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया है। जांच के आदेश दिए गए हैं।

Related news

Don’t miss out

News