हर किसी के लिए जहर है स्मॉग, ऐसे करें बचाव...

देश | Nov. 8, 2017, 3:37 p.m.


नई दिल्ली (8 नवंबर): दिल्ली-एनसीआर स्मॉग की जहरीली चादर की चपेट में है। कई जगह प्रदूषण स्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। जिसके कारण कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना हर पीढ़ी के लोगों को करना पड़ रहा है।

यूपी के मुरादाबाद की हवा देश भर में सबसे ज्यादा जहरीली रही। यूपी में दूसरे नंबर पर नोएडा रहा, हवा की क्वॉलिटी के मामले में लखनऊ का नंबर तीसरा है। मुरादाबाद का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स(एक्यूआई) 500 होना स्वास्थ्य के लिए काफी खतरनाक है। स्मॉग का प्रभाव यूपी के पांच अन्य शहरों में भी देखने को मिला। नोएडा एक्यूआई 468 रहा, जो कि 'सीवियर' श्रेणी में है। लखनऊ में हवा की गुणवत्ता 'सबसे खराब' श्रेणी में रही। लखनऊ का एक्यूआई 365 दर्ज किया गया। इसके अलावा आगरा में एक्यूआई 355, कानपुर में 361 और वाराणसी में 291 रहा।

इन बीमारियों का है खतरा

स्मॉग से अस्थमा, क्रॉनिक ब्रॉनकाइटिस, स्किन अलर्जी, आंखों में जलन के साथ ही सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। कई प्रकार की अलर्जी और फेफड़ों के कैंसर तक का खतरा होता है। कार्बन मोनोऑक्साइड, नाइट्रोजन डाइऑक्साइड और सल्फर डाइऑक्साइड के कारण हार्ट अटैक हो सकता है।

यह सावधानियां बरतें
- ठंड में घर के बाहर निकलें तो नाक, मुंह अच्छी तरह ढंकें।
- गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करें।
- मॉर्निंग वॉक पर जाने से पहले खूब सारा पानी पीएं।
- ताजे फल और सलाद खाएं। विटामिन सी भरपूर मात्रा में लें।
- महज मास्क लगाने भर से काम नहीं बनने वाला। सही मास्क ही जहरीली हवा से बचाव कर सकता है।

 

 

Related news

Don’t miss out

News