गोरखपुर के इस मदरसे में अरबी के साथ पढ़ाई जाती है संस्कृत

देश | April 10, 2018, 11:30 a.m.

नई दिल्ली (10 अप्रैल): इन दिनों गोरखपुर का दारुल उलूम हुसैनिया मदरसा चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मदसरे में बच्चों को विज्ञान, गणित, अंग्रेजी, अरबी के अलावा हिंदी और संस्कृत भी पढ़ाई जा रही है।

Goarakhpur: Sanskrit, among other subjects, being taught at Darul Uloom Husainia madrasa. Principal of the madrasa says 'It's a modern madrasa under UP Education board & subjects like English, Hindi, Science, Maths & Sanskrit are taught here. They are also taught Arabic'. pic.twitter.com/g2Lc6Hm6Pq

— ANI UP (@ANINewsUP) April 9, 2018

यह मदरसा यूपी शिक्षा बोर्ड के अंतर्गत आता है। खास बात यह है कि संस्कृत पढ़ाने के लिए मुस्लिम शिक्षक ही नियुक्त किया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस समय मदरसों को आधुनिक करने के लिए कई कदम उठा रहे हैं।

मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों का भी कहना है कि उन्हें संस्कृत पढ़ना अच्छा लगा रहा है। हमारे टीचर हमें बेहतर पढ़ा रहे हैं और हमारे परिवार के लोग भी इसमें हमारी सहायता कर रहे हैं।

Students of Darul Uloom Husainia madrasa in Gorakhpur say 'We feel good to learn Sanskrit. Our teachers teach & explain things very well. Even our parents help us in learning.' Sanskrit, among other subjects, is being taught at the madrasa. pic.twitter.com/KVCqcr19jp

— ANI UP (@ANINewsUP) April 10, 2018

Related news

Don’t miss out

News