मंगलवार को अंतिम उड़ान के साथ इतिहास बन जाएगा बोइंग 747 विमान

दुनिया | Dec. 17, 2017, 1:43 p.m.

नई दिल्ली ( 17 दिसंबर ): अमेरिका का बोइंग-747 वायुयान अगले हफ्ते यानी मंगलवार को अपनी आखिरी उड़ान भरने के बाद इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाएगा। अमेरिकी बोइंग-747 विमान एक विशाल व्यावसायिक विमान है, जिसे जंबो जेट के नाम से जाना जाता है। बता दें, अमेरिकी राष्ट्रपतियों का ये पसंदीदा विमान कहा जाता है। 

बोइंग-747 अपनी शुरुआत के करीब 50 साल बाद, 747 डेल्टा एयर लाइन्स Seoul-to-Detroit मार्ग से उड़ान भरेगा। बोइंग-747 की आखिरी उड़ान पर प्रमुख कंपनी इतिहासकार माइकल ने कहा कि इस मौके पर "सभी के लिए उड़ान उपलब्ध कराई गई" है। बोइंग-747 एक ऐसा विमान हैं, जिसने दुनिया को पंख दिया है।

वहीं एयरोस्पेस कंसल्टेंट Michel माइकल मेरलूज्यू ने कहा कि इस विमान ने यात्रा की तस्वीर बदल दी है, आप 24 घंटों से कम समय में सिंगापुर से लंदन जा सकते हैं।

बोइंग मूल रूप से एक डबल डेकर विमान माना जाता था, लेकिन कंपनियों ने निष्कर्ष निकाला कि आपातकाल स्थिति में अगर विमान में चौड़े गलियारों को डिजाइन नहीं होता तो इस मामले में यात्रियों को खाली करना मुश्किल हो सकता है।

Flightglobal Ascend के अनुसार, साल 1969 की फरवरी में बोइंग 747 की शुरुआत की गई थी। इसकी शुरुआत के बाद से, 747 के  1500 डिवीजन दिए गए हैं और 500 अभी भी सेवा में हैं।

Related news

Don’t miss out

News