नोटंबदी में इतने पैसे जमा कराने वालों को नोटिस भेजना शुरू

देश | Jan. 22, 2018, 11:14 a.m.


नई दिल्ली (22 जनवरी): नोटबंदी के दौरान लोगों ने जमकर काले धन को सफेद किया था, लेकिन मोदी सरकार ने अब ऐसे लोगों की पहचान करते हुए उन्हें नोटिस भेजना शुरू कर दिया है। मिली जानकारी के अनुसार, इनकम टैक्स विभाग ने ऐसे 2 लाख लोगों की पहचान कर उन्हें नोटिस भेज दिया है, जिन्होंने नोटबंटी के दौरान 20 लाख रुपये से ज्यादा बैंकों में जमा कराए, लेकिन न टैक्स डिपार्टमेंट के सवालों का जवाब दिया और न ही टैक्स रिटर्न्स फाइल किए।

गड़बड़ी करने वाले करदाताओं की पड़ताल में नियमों का पालन नहीं करते पकड़े जाने वालों पर कार्रवाई करना इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (सीबीडीटी) की इस वर्ष की एक महत्वपूर्ण प्राथमिकता है। इसके अतिरिक्त, सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेज देशभर में छापे मार रहा है ताकि नोटबंदी में खेल करनेवाले बेफिक्र होकर घूमते नहीं रहें।

आंकड़ों की गहन छानबीन के बाद सरकार ने नोटबंदी के बाद 5 लाख रुपये या इससे ज्यादा की रकम जमा कराने वाले 18 लाख संदिग्ध लोगों की पहचान की, जिनमें 12 लाख लोगों की पुष्टि इनकम टैक्स के पोर्टल से हो गई। 2.9 लाख करोड़ रुपये संदिग्ध रूप से जमा करवाई गई है। यह नोटबंदी के बाद जमा रकम का पांचवें हिस्से से भी कम है।

कुल मिलाकर 5 लाख लोगों ने टैक्स डिपार्टमेंट की अपील को कोई प्रतिक्रया नहीं दी। तब जाकर सरकार ने पहले 50 लाख रुपये या इससे ज्यादा मूल्य के पुराने नोट जमा करानेवाली को पकड़ने का मन बना लिया।

Related news

Don’t miss out

News