'ईरानी मौलवी ने जाधव का अपहरण कर 5 करोड़ में बेच दिया'

दुनिया | Jan. 19, 2018, 11:28 a.m.

नई दिल्ली(19 जनवरी): पाकिस्तान की जेल में बहंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव कभी बलूचिस्तान में घुसा ही नहीं उसको किडनैप करके बेचा गया है। यह दावा किया है 
बलूच एक्टिविस्ट कदीर बलोच ने। 

-बलोच के मुताबिक ईरानी मौलवी मुल्ला उमर बलोची ईरानी ने किडनैप किया था और 40-50 मिलियन (करीब 5 करोड़) में बेच दिया। 

-कुलभूषण जाधव फिलहाल पाक की जेल में बंद है। पाक ने उसे मौत की सजा सुनाई थी। हालांकि इस पर इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने रोक लगा दी थी।

- कदीर के एक चैनल को दिए इंटरव्यू के हवाले से पाक अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने कहा, "जाधव को ईरान से किडनैप किया गया और उसे बिना किसी सबूतों को दोषी करार दिया गया। जाधव कभी बलूचिस्तान में घुसा ही नहीं।''

- चैनल का दावा है कि जाधव को जैश-उल-अद्ल ग्रुप ने ईरान के सरबाज की गोल्डश्मिट बॉर्डर के पास से किडनैप किया था। ये बॉर्डर चाबहार से 52 किमी है। जैश-उल-अद्ल को पाक आर्मी पैसा देती है।

- रिपोर्ट के मुताबिक, "जाधव को सरबाज एक बिजनेस ग्रुप ने बुलाया था। ये बिजनेस ग्रुप जैश-उल-अद्ल के लिए काम करता है। मुल्ला उमर ईरानी भी जैश का ही हिस्सा है।''
-
 चैनल ने ये भी कहा कि भारत के विदेश मंत्रालय ने कदीर बलोच के इंटरव्यू को मांगा है।

- बता दें कि जाधव भारतीय नौसेना के अधिकारी थे जिन्हें  2016 में बलूचिस्तान से पकड़ा गया था।

Related news

Don’t miss out

News