Download app
We are social

घायलों से मिलने अस्पताल पहुंची महबूबा, राज्यपाल वोहरा ने बुलाई इमर्जेंसी मीटिंग

श्रीनगर (11 जुलाई): जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एकबार फिर कायराना हरकतें की है। यहां के अनंतनाग में लश्कर के आतंकियों ने 7 निहत्थे तीर्थयात्रियों को मौत के घाट उतार दिया। इस हमले में 3 जवान सहित 19 तीर्थयात्री घायल हो गए। तीर्थयात्रियों पर हुए इस हमले पर देश ही नहीं दुनियाभर में गुस्सा है। तमाम लोग सरकार के आतंकियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।


इन सबके बीच मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और राज्यपाल एनएन वोहरा हमले में मारे गए श्रद्धालुओं को श्रद्धांजलि देने श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे। और हमले की लिए जिम्मेदार आतंकियों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की।

साथ मुख्यमंत्री महबूबा और उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह अस्पताल में भर्ती घायल तीर्थयात्रियों का हालचाल जानने पहुंचे। घायलों के परिजनों से मिलकर दोनों नेताओं ने उनका ढाढ़स बंधाया और हर मुमकिन मदद का भरोसा दिया।

वहीं राज्य के राज्यपाल एनएन वोहरा ने राज्य और तीर्थ यात्रियों पर हमले के बाद सुरक्षा हालात पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई है।

 

आपको बता दें कि बीती रात करीब साढ़े 8 बजे आतंकियों ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के दावों को धता बताते हुए जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के बटेंगू में अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हमला कर दिया। इस हमले में 7 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई। जबकि सुरक्षाकर्मी समेत कई लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि आतंकी बाइक से आए तीर्थयात्रियों की बस पर अंधाधुंध गोलियां बरसा कर भाग निकले।


अमरनाथ यात्रियों पर इससे पहले 1 अगस्त 2000 को बड़ा हमला हुआ था, जिसमें 30 लोग मारे गए थे। एक आतंकी की पहचान हमले की शिकार बस में सभी श्रद्धालु गुजरात के बताए गए हैं। मृतकों में छह महिलाएं हैं। कश्मीर के आईजी मुनीर खान के अनुसार बाइक पर तीन आतंकी सवार थे। इनमें से एक की पहचान इस्माइल के रूप में हुई है। वहीं प्रशासन ने इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है।

Breaking News