रूस ने 18 महीने पहले ही बना लिया था अमेरिका से निपटने का प्लान, सीरिया ने मार गिराई यूएस की 71 क्रूज मिसाइलें

दुनिया | April 15, 2018, 12:57 p.m.

नई दिल्ली ( 15 अप्रैल ): अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन के हमले से सीरिया को कोई खास नुकसान नहीं हुआ। इन देशों की ओर से सीरिया पर 103 मिसाइलें दागी गईं, जिनमें से सीरिया ने 71 मिसाइलों को सफलतापूर्वक मार गिराया। रूस ने यह दावा किया है। रूसी मिलिटरी ने दावा किया है कि अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन की तरफ से जो मिसाइलें दागीं गईं उनमें से 71 को सीरिया ने एयर डिफेंस सिस्टम के जरिए गिरा दिया और मिसाइल हमले से ज्यादा नुकसान भी नहीं हुआ है। 

रूसी सेना के कर्नल जनरल सर्गेई रुदस्कोई ने कहा कि इन हमलों से किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं मिली है और सीरियाई सेना को छोटा-मोटा नुकसान झेलना पड़ा है। रूस का दावा है कि अमेरिका की तरफ से 103 मिसाइलें दागीं गईं थीं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन सीरियाई एयर डिफेंस सिस्टम को रूस की मदद से तैयार किया गया है। रूसी जनरल के मुताबिक रूस पिछले 18 महीने से सीरिया को एयर डिफेंस सिस्टम और हथियार उपलब्ध करा रहा है। साथ ही इसको लगातार जारी रखे हुए। 

सीरिया के पास रूस द्वारा दिया गया Pantsir S-1 ऐंटी एयरक्राफ्ट सिस्टम है। Pantsir S-1 सीरिया के अपने एयर डिफेंस सिस्टम से काफी आधुनिक है और देश की वायु सुरक्षा प्रणाली की रीढ़ की हड्डी माना जाता है। 

मॉस्को ने कहा कि सीरिया ने मिसाइलों को मार गिराने के लिए S-125, S-200, बक और कदरात सिस्टम का इस्तेमाल किया था। इतना ही नहीं रूसी अधिकारियों ने बताया कि अमेरिका ने सीरिया के 6 वायुसेना अड्डों को अपना निशाना बनाया था। 

बता दें कि सीरिया में कथित केमिकल अटैक के जवाब में अमेरिका ने अपने सहयोगी देशों ब्रिटेन और फ्रांस के साथ मिलकर बड़ी कार्रवाई करते हुए टॉमहॉक मिसाइलों से सीरिया के कथित केमिकल ठिकानों को निशाना बनाने का दावा किया था। 

Related news

Don’t miss out

News