Download app
We are social
Chanakya Poll Today

छत्तीसगढ के एक परिवार में हैं 54 बच्चे, रात को सोते समय होती है गिनती


नई दिल्ली (21 मार्च): छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार जिले के ग्राम पंचायत दशरमा में एक साहू परिवार पिछले छह पीढ़ी से एक साथ रहते आ रहा है। परिवार का आपसी प्रेम ही है जो इनकी एकता की डोर को बांधे हुए है। इस परिवार में अलग-अलग घरों से 15 महिलाएं बहू के रूप में हैं, लेकिन इनके बीच कभी आपसी मतभेद नहीं होते।


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस घर में 25 छोटे-बड़े बच्चे हैं जो पढ़ते हैं। इस परिवार के पास 100 एकड़ खेती की जमीन है। यही नहीं, इस परिवार में दोनों समय का भोजन एक साथ बनता है। इस परिवार की एकता के चर्चे पूरे जिले में है। आज के टूटते-बिखरते रिश्तों के बीच ग्राम दशरमा का साहू परिवार एकता की मिशाल पेश करता है। साहू परिवार के लोग पिछले छह पीढ़ी से एक साथ रहते आ रहे हैं। वर्तमान में 54 सदस्यों का भरापूरा परिवार है, जिसमे 15 महिलाओं के 25 बच्चे हैं। इस घर का माहौल मेले जैसा रहता है। दिलचस्प बात ये है कि दिन बीत जाने पर रात में परिवार के सभी लोगों की गिनती की जाती है।


Related news

Don’t miss out